G-8QW5MM8L67

अमेजन के जंगलों में भीषण आग: ब्राजीलियन राष्ट्रपति ने इससे निपटने के लिए सेना भेजी



ब्रासिलिया. अमेजन के जंगलों में तेजी से फैलती आग और बढ़ते अंतरराष्ट्रीय दबाव के बाद ब्राजील के राष्ट्रपति जैर बोल्सोनारो ने शुक्रवार को आग से निपटने के लिए सेना भेजी। इससे पहले अल जजीरा ने बोल्सोनारो के हवाले से कहा था कि सरकार जंगलों में सेना को भेजने का मन बना रही है। हालांकि यह कदम कब उठाया जाएगा, इसे लेकर कोई फैसला नहीं लिया गया था।

दरअसल, ब्राजीलियन राष्ट्रपति को वैश्विक स्तर पर आलोचनाओं का शिकार होना पड़ा है। इसका कारण वर्षावन की सुरक्षा को लेकर उनकी विजन और योजनाओं हैं। यही उनके देश के आर्थिक विकास का रोड़ा है। पेरिस, लंदन और जेनेवा में स्थित ब्राजील दूतावास के बाहर कुछ लोगों ने इकट्ठा होकर विरोध प्रदर्शन भी किया। लोगों ने अपील की कि ब्राजील आग से निपटने के लिए और प्रयास करे।

मैक्रों ने कहा- यह एक अंतरराष्ट्रीय समस्या

फ्रांस के राष्ट्रपति इम्युनल मैक्रों ने कहा कि जंगल की आग एक अंतरराष्ट्रीय समस्या है। जी-7 राष्ट्रों को चाहिए कि इस सप्ताहांत पर होने वाली समिट में इस मामले पर भी बात करें। मैक्रों ने ट्वीट किया- हमारे घर जल रहे हैं। सचमुच। अमेजन के वर्षावन हमारे फेफड़े हैं। हमारे ग्रह की 20 % ऑक्सीजन यही से पैदा होती है। वहां आग लगी है। यह एक अंतरराष्ट्रीय समस्या है। जी-7 के सदस्य, आइए अगले दो दिनों में सबसे पहले इस पर बात करते हैं।

मैक्रों ने कहा- ब्राजील मामले की अनदेखी कर रहा

जी-7 समिट के पहले मैक्रों के दफ्तर से बयान जारी किया गया। इसमें कहा गया कि ब्राजीलियन निर्णय और बयान बताते हैं कि उन्होंने तय कर लिया है कि पर्यावरण को लेकर अपने दायित्वों का सम्मान नहीं करेंगे। और न जैव-विविधता से जुड़े इस मामले में खुदको शामिल करेंगे।

बोल्सोनारो ने मैक्रों पर राजनीति करने केआरोप लगाए

दूसरी तरफ बोल्सोनारो ने मैक्रों पर इस मामले को राजनीतिक रंग देने का आरोप लगाया। उनकी सरकार ने कहा कि यूरोपियन राष्ट्र ब्राजील की पर्यावरणीय समस्या को कमर्शियल इंट्रेस्ट से जोड़ रही है। बोल्सोनारो ने कहा था कि मैं जमीन को सोयाबीन के खेत और मवेशियों के चारागाह में बदलना चाहता हूं।

गौरतलब है कि फ्रांस और आयरलैंड ने कहा था कि वे तब तक दक्षिणी अमेरिकी देश के साथ व्यापार सौदे को मंजूरी नहीं देंगे, जब तक कि वह अमेजन में लगी आग से निपटने के लिए कुछ नहीं करता।

अमेजन को संरक्षित किया जाना चाहिए: गुटेरेस

संयुक्त राष्ट्र महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने गुरुवार को ट्वीट किया, “वैश्विक जलवायु संकट के बीच, हम ऑक्सीजन और जैव विविधता के एक प्रमुख स्रोत का अधिक नुकसान नहीं सहन कर सकते। अमेजन को संरक्षित किया जाना चाहिए।”

बोल्सोनारो की सरकार दोषी: पर्यावरणविद

पर्यावरण के संरक्षणवादियों ने अमेजन की दुर्दशा के लिए बोल्सोनारो की सरकार को दोषी ठहराया है। इन लोगों का कहना है कि बोल्सोनारो ने लकड़हारों और किसानों को भूमि के सफाये के लिए प्रोत्साहित किया है, जिससे वर्षावनों की कटाई में तेजी आई है।

DBApp

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


पेरिस, जेनेवा, लंदन में लोगों ने प्रदर्शन किया।


Brazil: fires: President Jair Bolsonaro sent army to fight fires, Amazon fires update

Source: bhaskar international story

Visits:87

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *