जैक मा जैसा दिखने का फायदा, ग्रॉसरी स्टोर की कमाई बढ़ी; सोशल मीडिया पर 13 लाख फॉलोअर्स

content-single



बीजिंग. चीन के झेजियांग प्रांत के तोगशांग शहर में अलीबाबा के मालिक जैक मा जैसी शक्ल होना एक ग्रॉसरी स्टोर चलाने वाले के लिए फायदेमंद साबित हो रहा है। 39 साल के वु शुएलिन को देखकर कई बार लोग उन्हें असली जैक मा समझ लेते हैं। इसका फायदा यह हुआ है कि पूरे चीन में उनकी लोकप्रियता तेजी से बढ़ रही है। सोशल मीडिया में पिछले कुछ ही समय में उनके फॉलोअर्स की संख्या 13.5 लाख के पार हो गई है।

  1. इस लोकप्रियता के बाद वु ने अपना नाम भी बदल लिया है। सोशल मीडिया पर वो खुद को लिटिल जैक मा लिखते हैं। वु को देखने के लिए लोग दूर-दराज के इलाकों से तोगशांग शहर पहुंच रहे हैं। इसके चलते उनका बिजनेस भी तेजी से बढ़ रहा है।

  2. वु के मुताबिक, कई बार लोग स्टोर पर पहुंचकर भ्रमित हो जाते हैं और मुझे जैक मा समझ लेते हैं। इसके बाद लोगों के बीच सेल्फी लेने की होड़ लग जाती है।उनका कहना है कि कुछ कस्टमर्स खरीददारी के दौरान उन्हें बॉस जैक मा भी बुलाते हैं।

  3. वु का कहना है कि मा जैसा दिखना काफी खुशी और गर्व की बात है। खास बात यह है कि वु की कहानी जैक मा के पास भी पहुंच चुकी है। मा ने वु को दुकान के लिए मदद का भी प्रस्ताव दिया है। हालांकि, वु उनके प्रस्ताव को ठुकरा चुके हैं। वु का कहना है कि वह अपना ग्रॉसरी स्टोर छोड़कर नहीं जाएंगे।

  4. अलीबाबा कंपनी के मालिक और टेक आंत्रप्रेन्योर जैक मा चीन में कितने लोकप्रिय हैं इसका अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हुआंग नाम के एक आदमी ने उनके जैसा दिखने के लिए अपनी प्लास्टिक सर्जरी तक करा ली। इसके लिए उसने 1 करोड़ रुपए तक खर्च कर दिए थे। इसके अलावा 9 साल के एक लड़के के भी जैक मा जैसे दिखने के दावे हो चुके हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सोशल मीडिया पर बच्चे की तस्वीरें वायरल होने के बाद जैक ने उसकी पढ़ाई का खर्च उठा लिया है।

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      चीन के तोगशांग शहर में रहते हैं जैक मा जैसे दिखने वाले वु शुएलिन।


      Jack Ma lookalike in China gains popularity


      Jack Ma lookalike in China gains popularity


      Jack Ma lookalike in China gains popularity

      Source: bhaskar international story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »