G-8QW5MM8L67

पाकिस्तान में प्लास्टिक के इस्तेमाल पर प्रतिबंध, लेकिन दुकानदारों के पास कोई विकल्प नहीं



इस्लामाबाद.पाकिस्तान में हाल में पंजाब में प्लास्टिक पर बैन लगाया गया है। वहां प्लास्टिक का उपयोग कम करने के लिए कई प्रयास किए जा रहे हैं। हालांकि, अब तक पाकिस्तान के सबसे अधिक आबादी वाले राज्य में इसे लागू करने की कोई तारीख तय नहीं की गई।सिंध के दक्षिण-पूर्व राज्य ने घोषणा की है कि अक्टूबर महीने से इस पर प्रतिबंध लगाया जाएगा।

  1. पिछले हफ्ते इस्लामाबाद में प्रतिबंध लगाया गया था। राजधानी के निवासियों को पॉलीथीन बैग का उपयोग करते हुए पकड़े जाने पर 70 डॉलर (करीब 5000 रु.) का जुर्माना लगाया जाएगा। यह एक मजदूर की लगभग महीनेभर की कमाई है। प्लास्टिक निर्माताओं और दुकानदारों पर भी जुर्माना लगाया जाएगा।

  2. पाकिस्तान पर्यावरण संरक्षण एजेंसी के महानिदेशक फरजाना अल्ताफ की जांच केबाद इस्लामाबाद में एक दुकानदार पर प्लास्टिक की थैलियों के इस्तेमाल के लिए 200,000 पीकेआर (90,440 रु.) का जुर्माना लगाया गया। वहीं, एक अन्य स्टोर के मैनेजर से 50,000 पीकेआर (22,772 रु.) वसूला गया।

  3. पंजाब में प्लास्टिक बैन की घोषणा किए जाने के बाद जलवायु परिवर्तन राज्यमंत्री जरताज गुल ने ट्वीट कर सीएम कोधन्यवाद दिया। पाकिस्तान सरकार काफी समय से ब्लास्टिक पर बैन की कोशिश कर रही है। लेकिन स्थानीय सरकार इस नीति को लागू करने में विफल रहे हैं। लोगों के पास कोई और सस्ते विकल्प नहीं है।

  4. जलवायु परिवर्तन पर प्रधानमंत्री के सलाहकार मलिक अमीन असलम ने ‘गार्जियन’ से कहा कि पाकिस्तान प्लास्टिक के उपयोग पर प्रतिबंध लगाने के लिए प्रतिबद्ध है। हमने उन लोगों पर भारी जुर्माना लगाएंगे जो इस नियम का उल्लंघन करेंगे।सरकार इसकी जगह अन्य विकल्पों के लिए दुकानदारों की मदद करेगी। हम पेपर बैग्स बना रहे हैं।

  5. कैबिनेट ने भी घोषणा की है कि प्लास्टिक पर बैन लगाना राष्ट्रीय गोल है। इस्लामाबाद के कोमाट्स यूनिवर्सिटी में सेंटर फॉर क्लाइमेट रिसर्च एंड डेवलपमेंट के वैज्ञानिक अधिकारी हसन शिप्रा को संदेह था कि यह बदलाव होगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान में कानूनों को लागू करना हमेशा से एक समस्या रहा है।

  6. हसन ने कहा कि इस बार सरकार प्लास्टिक बैन पर गंभीर है। लेकिन, सरकार को आगे भी इस पर नजर रखनी होगी।पर्यावरण पत्रकार अफिया सलाम ने कहा कि अगर सरकार फेल होती है तो यह पर्यावरण के लिए भी नुकसानदेह होगा। वहां के कुछ लोगों का कहना है कि अभी भी कई दुकानदारों के पास प्लास्टिक के जगह कोई अन्य विकल्प नहीं हैं।

    DBApp

    1. Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


      इस्लामाबाद में प्लास्टिक के ढेर के पास महिलाएं।

      Source: bhaskar international story

      Visits:169

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *