भारत की ईशा बहल एक दिन के लिए बनीं ब्रिटिश उच्चायुक्त, कॉम्प्टीशन जीतकर मिला मौका

content-single



नई दिल्ली. नोएडा यूनिवर्सिटी में राजनीति विज्ञान की छात्रा ईशा बहल को ब्रिटेन ने एक दिन के भारत में ब्रिटिश उच्चायुक्त बनने का मौका दिया। दरअसल, कुछ ही दिन पहले भारत में स्थित ब्रिटिश हाईकमीशन ने 11 अक्टूबर को होने वाले ‘इंटरनेशनल गर्ल चाइल्ड डे’ के लिए एक कॉम्प्टीशन आयोजित किया था। इसे सिर्फ 18 से 23 साल की लड़कियों के लिए रखा गया था। चयनित होने वाली लड़की को एक दिन के लिए उच्चायुक्त बनाए जाने का प्रस्ताव रखा गया था।

प्रतियोगिता के लिए प्रतिभागियों को एक वीडियो तैयार करना था, जिसकी थीम लैंगिक समानता यानी जेंडर इक्वालिटी रखी गई थी। देशभर से करीब 58 छात्राओं ने अपने वीडियो भेजे। इसमें जीत हासिल करने वाली ईशा ने सोमवार को एक दिन के लिए उच्चायुक्त पद संभाला।

भारत-ब्रिटेनरिश्तों की गहराई पता चली:जीत पर खुशी जताते हुए ईशा ने कहा- “ब्रिटिश उच्चायुक्त के तौर पर काम करना एक बड़ी उपलब्धि रही। मुझे ब्रिटेन और भारत के रिश्तों के बारे में करीब से जाना। इसके जरिए मुझे लैंगिक समानता के मुद्दे को ज्यादा बेहतर तरीके से उठाने का मौका भी मिला।”

ब्रिटिश स्थाई उच्चायुक्त ने संभाला उपउच्चायुक्त का पद: ईशा के उच्चायुक्त बनने के दिन भारत में ब्रिटेन के स्थाई हाईकमिश्नर डोमिनिक एशकिथ डिप्टी हाईकमिश्नर थे। उन्होंने कहा कि भारत की युवा महिलाओं को ऐसा प्लेटफार्म मुहैया करा के उन्हें काफी खुशी हुई। उन्होंने वीडियो भेजने वाले सभी लोगों का शुक्रिया जताया। उन्होंने ईशा को भविष्य के लिए बधाई दी।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Indian Student Becomes British High Commissioner For A Day

Source: bhaskar international story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »