Uncategorized

यहां महिलाओं के लिए इतनी मुश्किल है LIFE, नहीं कर सकतीं ये काम

ईरान की पहचान दुनियाभर में कट्टर इस्लामिक देश के तौर पर है। इसकी शुरुआत इस्लामिक क्रांति के साथ हुई और 3 दिसंबर 1979 को अयातुल्लाह खोमैनी ईरान के शाह मोहम्मद रेजा पहलावी को सत्ता से बेदखल कर देश के सुप्रीम लीडर बन गए थे। इसके बाद से यहां नियम कायदे बहुत सख्त हो गए और वो भी खासकर महिलाओं के लिए। उन्हें साइकिल चलाने से लेकर सेल्फी लेने, हुक्का पीने, कैफे में जाने और कपड़े पहनने तक कई तरह की पाबंदियों का सामना करना पड़ता है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Source: bhaskar international story