G-8QW5MM8L67

राजा जिग्मे खेसर ने सुषमा की याद में 1000 दीये जलाए, मठ में प्रार्थना सभा भी की



थिंपू.पूर्व विदेश मंत्री दिवंगत सुषमा स्वराज कोश्रद्धांजलि देते हुए भूटाननरेश जिग्मे खेसर नामग्याल वांगचुक ने एक मठ में एक प्रार्थना सभा आयोजित की। गुरुवार को हुई इस सभा में सुषमा की तस्वीर के सामने घी केएक हजार दीये जलाए गए।जिग्मे खेसर ने दिवंगत मंत्री के परिवार और भारत सरकार कोशोक संदेश भी भेजे।

दिल्ली में 7 अगस्त की रात सुषमा का निधन हो गया था। भूटान नरेश ने सुषमा के विदेश मंत्री रहते हुए भारत की यात्रा परिवार के साथ की थी। इस दौरान भूटान के नन्हे राजकुमार के साथ सुषमा की कुछ तस्वीरें भी सोशल मीडिया पर वायरल हुई थीं।

सुषमा

‘वह भूटान की अच्छी दोस्त थीं’
अपने शोक संदेश में प्रधानमंत्री लोटे शेरिंग ने कहा, ‘‘सुषमाका निधन न केवल भाजपा, बल्किदेश के लिए भी बड़ी क्षति है। भूटान के साथ भारत के संबंधों में सुषमा की भूमिका बहुत अहम थी। वे हमारेअच्छे दोस्त की तरह थीं। उन्होंने दोनों देशों के संबंधों को बढ़ाने में अहम भूमिका निभाई।’’

शेरिंग के मुताबिक, ‘‘मैं और संपूर्ण भूटान सुषमा स्वराज के असामयिक निधन पर शोक व्यक्त करते हैं। मुझे पिछले साल भारत यात्रा के दौरान उनसे मिलने का मौका मिला था। भूटान और भारत के संबंधों को मजबूत करने में उनके नेतृत्व को हम हमेशा याद रखेंगे।’’

50 देशों के राजनयिकों ने सुषमा स्वराज को श्रद्धांजलि दी
संयुक्त राष्ट्र में विश्वभर के 50 देशों के राजनयिकों ने पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के निधन पर संदेशलिखकर श्रद्धांजलि दी। यूएन में भारत के राजदूत और स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने शनिवार को ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें इन राजनियकों को संदेशलिखते हुए दिखाया गया। इन देशों में जर्मनी, घाना, इटली, क्यूबा, अफगानिस्तान, ऑस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, नेपाल, रूस, यूएई, मालदीव, न्यूजीलैंड आदि देश शामिल हैं।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


मठ में प्रार्थना सभा में रखी सुषमा स्वराज की तस्वीर।


Jigme Khesar Namgyel Wangchuck: Bhutan King Light Lamps Deeye in Sushma Swaraj Memory


Jigme Khesar Namgyel Wangchuck: Bhutan King Light Lamps Deeye in Sushma Swaraj Memory

Source: bhaskar international story

Visits:107

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *