G-8QW5MM8L67

रूस की आर्मी ने यहां 80 हजार से ज्यादा लोगों को उतार दिया था मौत के घाट

इंटरनेशनल डेस्क. चेचेन्या के सर्वोच्च नेता रमजान कादीरोव के अकाउंट फेसबुक और इंस्टाग्राम ने बंद कर दिए हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ऐसा अमेरिकी सरकार के प्रतिबंधों के चलते किया गया है, क्योंकि कादीरोव पर विरोधियों की हत्या कराने के आरोप हैं। कादीरोव ने 2007 में पिता की हत्या के बाद सत्ता संभाली थी। सशस्त्र लड़ाकों के संगठन के प्रमुख कादीरोव बाद में रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के खास बन गए थे। बता दें, सोवियत संगठन के विघटन के बाद से ही रूस और चेचेन्या के बीच हिंसक संघर्ष की शुरुआत हुई और इनके बीच दो बार भीषण जंग हुई। करीब 80 हजार लोगों की हुई मौत…   – 1864 में रूस के तत्कालीन शासक ने रूस के दक्षिणी हिस्से में स्थित गणराज्य चेचेन्या पर कब्जा कर लिया था, लेकिन चेचेन्या ने कभी अपने आपको रूस का हिस्सा नहीं माना। – इसके बाद से ही रूस के सैनिकों और चेचेन विद्रोहियों के बीच खूनी संघर्ष की शुरुआत हुई, जो अब तक जारी है। – रूस और चेचेन के बीच पहला वॉर 11 दिसंबर 1994 से 31 अगस्त 1996 और दूसरा 26 अगस्त 1999 से 15 अप्रैल, 2009 तक लड़ा गया।  – ह्यूमन राइट्स ग्रुप की रिपोर्ट के…

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें
Source: bhaskar international story

Visits:143

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *