400 साल पुराने गुरु नानक पैलेस में तोड़फोड़, बदमाशों ने कीमती सामान भी बेच डाला

content-single



लाहौर. नरोवालस्थित 400 साल पुराने ऐतिहासिक गुरु नानक पैलेस को बदमाशों ने ध्वस्त कर दिया। मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि इसका कीमती सामान पंजाब प्रांत में बेचा गया। बड़ी संख्या में देश विदेश से श्रद्धालु यहां आया करते थे। लोगों ने इमरान सरकार से कार्रवाई करने को कहा है। उधर, प्रशासन का कहना है कि रेवेन्यू रिकार्ड में इस पैलेस काजिक्र नहीं है।

चार मंजिलाथा गुरु नानक पैलेस
पाक की मीडिया के मुताबिक- गुरु नानक पैलेस चार मंजिल का था। भवन की दीवारों पर गुरु नानक जी के साथ कई भारतीय शासकों की तस्वीरें लगी थीं। भवन में 16 कमरे थे। हर कमरे में तीन दरवाजों के साथ हवा के लिए चार वेंटीलेटर भी बनाए गए थे।

मौके पर नहीं पहुंचा प्रशासन
सूत्रों का कहना है कि कुछ प्रभावशाली लोगों ने वक्फ महकमे के साथ मिलकर भवन को ढहाया। पैलेस का निर्माण मध्यकालीन वास्तु के मुताबिक किया गया था। स्थानीय लोगों का कहना है कि वक्फ महकमे को इस बारे में सूचना दे दी गई थी, लेकिन कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा।

रेवेन्यू रिकार्ड में पैलेस का जिक्र नहींः डीसी
नरोवाल के डीसी (डिप्टी कमिश्नर) वाहिद असगर का कहना है कि रेवेन्यू रिकार्ड में पैलेस का जिक्र नहीं है। भवन ऐतिहासिक था, इस वजह से म्यूनिसिपल कमेटी का रिकार्ड देखा जा रहा है। उनका कहना है कि भवन के मालिक का पता भी नहीं लग पा रहा है।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Historical Guru Nanak palace demolished in pakistans Narowal

Source: bhaskar international story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »