निर्दलीय उम्मीदवार बाबूलाल नागर की नामांकन में उमड़ा जन सेलाब

content-single

दुदू से पूर्व मंत्री ने क्यों किया निर्दलीय चुनाव लड़ने का फेशला –

भारत के सबसे बड़े चुनाव का आगाज हो गया है | यह आगाज की शरुवात हो गयी है यह शुरवात मध्यप्रदेश, राजस्थान, छतीसगढ़ और तेलंगाना से शरु होई है क्यों की यह चुनाव ही 2019 में होने वाले प्रधानमंत्री चुनाव की रूप रेखा तैयार करेगा क्यों की जिस पार्टी ने यह चुनाव जीत लिया तो उs पार्टी के लिय सन 2019 में होने वाले प्रधानमंत्री चुनाव में ज्यदा महन्त नही करनी पड़ेगी.

राजस्थान, मध्यप्रदेश, छतीसगढ़ और तेलंगाना में चुनाव की तयारी जोरो शोरो से चल रही है क्यों इन सभी राज्यों में चुनाव का परिणाम 11-12-2018 को रात तक घोषित कर दिए जायेगे इस लिय सभी पार्टियों के विधायक और निर्दलीय के विधायक ने अपनी कमर कस ली है चुनाव को जितने के लिय.

राजस्थान राज्य में चुनाव 07-11-2018 को होने है इस लिय सभी पार्टियों ने अपने सभी उमिद्वारो की लिस्ट जारी कर दी है जिन पार्टी के उमिद्वारो को पार्टी ने टिकट नही दिया वो उन सब उमिद्वारो मे से ज्यदातर उमिद्वार निर्दलीय चुनाव लड़ने की ताल थोक रहे है. जिसमें कही पूर्व में विधायक रह चुके है और कुछ लोग राजस्थान सरकार में मंत्री भी रह चुके है|

सन 2018 के राजस्थान विधान सभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण होने वाले है क्यों की इस चुनाव में पार्टी के टिकट वितरण प्रणाली से बहुत से विधानसभा उमीदवार में पार्टी के प्रति बहुत ज्यदा रोष है| उन में से ज्यादातर उमीदवार ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फेशला कर लिया है जिन में कुछ 3 बार लगातार चुनाव भी जीत चुके है लेकिन क्या हो जब पार्टी ने उन्हें टिकट नही दिया इस लिय उन सब ने निर्दलीय  चुनाव लड़ने का फेशला किया है इस लिय सन 2018 के राजस्थान विधान सभा चुनाव बहुत महत्वपूर्ण होने वाले है.

बाबूलाल नागर
बाबूलाल नागर

दुदू विधान सभा का चुनवा –

सन 2018 के राजस्थान विधान सभा चुनाव 07-12-2018 होने है इन चुनवा में सब से अलग चुनाव तो दुदू का ही होना है क्यों इश चुनाव में सबसे बड़े नेता ने अपने भविष्य दाव पर लगाया है. दुदू विधानसभा चुनाव में कांग्रेस से 2 बार विधायक और मंत्री रह चुके बाबूलाल नागर को कांग्रेस पार्टी ने टिकट नही किया उस की जगह रितेश बैरवा को टिकट दिया है और बीजेपी से डॉ. प्रेमचन्द बैरवा को टिकट दिया है इस लिय 3 बर विधायक और मंत्री रह चुके बाबूलाल नागर ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फेशला किया है.

क्यों है रोचक मुकाबला-

सन 2018 के राजस्थान विधान सभा चुनाव 07-12-2018 होने है और परिणाम 11-12-2018 को देर रात तक आएगा इस लिय राजस्थान इन सभी सिटो पर उमिद्वारो ने अपनी कमर कस लिय है लकिन सब से ज्यदा रोचक मुकाबला तो दुदू विधान सभा का ही है क्यों की 3 बार विधायक और मंत्री रह चुके बाबूलाल नागर ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का फेशला किया है जिस से बीजेपी और कांग्रेस हाथ पांव फुला रखे है लेकिन रुजनो में बीजेपी का पलड़ा भारी लग रहा है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »