6 साल की उम्र में था 60 किलो वजन, फिर इतना वजन बढ़ा कि दो कदम चलकर भी थक जाता था ये शख्स

content-single



इंटरनेशनल डेस्क: मैक्सिको के जुआन पेड्रो फ्रैंको (34) ने दुनिया के सबसे वजनी व्यक्ति का रिकॉर्ड गंवा दिया है। गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड से नाम हटने पर जुआन को कोई दुख नहीं, बल्कि खुशी है। 595 किलोग्राम के जुआन का वजन बैरियाट्रिक सर्जरी की वजह से अब 304 किलो रह गया है। दो साल के भीतर उनकी कई सर्जरी की गईं। जुआन खुश हैं कि अब वो बिस्तर से उठकर चल-फिर सकते हैं। अब उनका लक्ष्य अपना वजन 138 किलो करना है।

जुआन ने 6 साल बिस्तर पर ही बिताए
जुआन ने बताया कि उनके मोटापे की वजह बीमारी थी। 6 साल में ही उनका वजन 60 किलो हो गया था। इसके बाद हर साल उनका वजन करीब 9 किलो तक बढ़ता रहा। जुआन ने कहा कि- 'पहले महज 6 कदम चलने पर थक-हारकर बैठ जाता था, लेकिन अब 100 कदम से ज्यादा चल सकता हूं।'

कैसे बढ़ा था वजन?
जुआन की आर्थिक स्थिति ठीक ना होने के कारण पौष्टिक भोजन नहीं ले पा रहे थे। इसके बाद 17 वर्ष की उम्र में उनका कार एक्सीडेंट हो गया। एक्सीडेंट की वजह से जुआन को काफी वक्त घर पर बिताना पड़ा और इसके चलते वजन और बढ़ता गया। ज्यादा वजन की वजह से उन्हें करीब 6 साल बिस्तर पर ही बिताने पड़े।

– मैक्सिको के ग्वाडलहारा के हॉस्पिटल में जुआन की सर्जरी की गई। जुआन को स्पेशल हाईटेक एंबुलेंस से अस्पताल लाया गया। डॉक्टरों के मुताबिक, पहले यह पता लगाया गया कि जुआन सर्जरी के बाद चल-फिर पाएंगे या नहीं। ज्यादा वजन की वजह से ट्रीटमेंट में भी दिक्कतें आईं। डॉक्टरों ने कहा- सर्जरी के बाद जुआन चल-फिर पा रहे हैं। उन्हें कुछ महीने हॉस्पिटल में ही रखा जाएगा। इलाज के अगले चरण में उनकी मांसपेशियों को मजबूत करने पर फोकस किया जाएगा।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Worlds heaviest man loses 300 kg along with Guinness World Record

Source: bhaskar international story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »