बॉल को बाउंड्री पर जाते देख क्रीज पर बात करने लगे PAK बल्लेबाज, तभी फील्डर ने कर दिया रन आउट, एक दिन बाद अजहर अली ने तोड़ी चुप्पी, कहा- 'मेरे बच्चे भी बनाएंगे मजाक'

content-single



स्पोर्ट्स डेस्क/अबु धाबी: ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ नाटकीय अंदाज में आउट होने वाले पाकिस्तान के बल्लेबाज अजहर अली का फैन्स के बीच काफी मजाक उड़ रहा है, हालांकि अपनी लापरवाही से आउट होने वाले अजहर ने सफाई दी है, अजहर ने कहा- 'मुझे उम्‍मीद है मेरा बेटा भी मेरी खिंचाई करने से पीछे नहीं रहेगा, वो निश्चित रूप से मजाकिया लहजे में इस बारे में लंबे समय तक मुझसे बात करेगा।'

ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स के बारे में क्या बोले अजहर
हालांकि ऑस्ट्रेलियाई प्लेयर्स के बारे में अजहर ने कहा-'ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने किसी भी तरह के खेल भावना का उल्लंघन नहीं किया गया, ऑस्ट्रेलिया के खिलाड़ी मैदान पर पूरी तरह से सतर्क थे और उन्हें इसका फायदा मिला।' अजहर ने कहा, 'मैं जब आउट होकर ड्रेसिंग रूम में गया तो साथी खिलाड़ी भी मेरे रनआउट को लेकर मजाक बना रहे थे, बहरहाल, मैं कोई बहाना नहीं बना सकता था।'

कैसे आउट हुए थे अजहर?
पाकिस्तान-ऑस्ट्रेलिया के बीच दो मैच की सीरीज के दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन गुरुवार को पाकिस्तानी टीम ने अपनी दूसरी पारी खेली। मैच के दौरान उसके बल्लेबाज अजहर अली अपनी गलती से रन आउट हो गए। दरअसल अजहर 64 रन बनाकर खेल रहे थे। पीटर सिडल ने उन्हें गेंद फेंकी। अजहर ने उसे कवर की ओर खेला। गेंद बाउंड्री की ओर जा रही थी। उसके पीछे मिशेल स्टार्क दौड़ रहे थे। अजहर पहले रन लेने के लिए दौड़े, लेकिन जब उन्हें लगा कि गेंद सीमा रेखा पार कर जाएगी तो वे हॉफ पिच पर ही साथी बल्लेबाज असद शफीक से बात करने लगे। शफीक से बात करने में अजहर इतने मशगूल हो गए कि उन्होंने यह भी नहीं देखा कि गेंद बाउंड्री से पहले ही रुक गई है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया के विकेटकीपर टिम पेन ने जब यह देखा तो उन्होंने स्टार्क से उनकी ओर गेंद फेंकने के लिए कहा। स्टार्क का थ्रो जैसे ही उनके पास पहुंचा, उन्होंने अजहर को रन आउट करने का कोई मौका नहीं गंवाया। अजहर के पास खुद को आउट होते देखने के अलावा कोई रास्ता नहीं था।

7 साल पहले धोनी इयान बेल को बुलाया था वापस
2011 में भारतीय टीम इंग्लैंड दौरे पर थी और टेस्ट सीरीज खेल रही थी। ट्रेंट ब्रिज में दूसरे टेस्ट के तीसरे दिन इयान बेल शतक लगा चुके थे और अपनी टीम को मजबूत स्थिति में ले जा चुके थे। इस दौरान टी से पहले के आखिरी ओवर की आखिरी गेंद पर मॉर्न ने डीप स्क्वॉयर लेग पर शॉट खेला और प्रवीण कुमार गेंद को पकड़ नहीं सके और गेंद बाउंड्री की तरफ जाने लगी। दोनों बल्लेबाज दो रन ले चुके थे और तीसरे के लिए भी पलट आए और पिच के बीच में आकर मॉर्गन ने अपने हाथ बेल के कंधों पर रख लिए और दोनों पवेलियन की तरफ जाने लगे। इसके बाद प्रवीण ने गेंद को फील्ड कर अभिनव मुकुंद की तरफ थ्रो किया और उन्होंने बेल्स गिराकर रन आउट की अपील कर दी।अंपायर ने भारतीय खिलाड़ियों से फिर से पूछा कि क्या वो अपील कर रहे हैं और इस पर टीम इंडिया ने 'हां' में जवाब दिया। इंडिनय प्लेयर्स की अपील पर बने रहने के बाद थर्ड अंपायर ने लगभग 8 मिनट तक रीप्ले देखने के बाद पाया कि गेंद बाउंड्री तक नहीं पहुंच पाई थी और स्क्रीन पर आउट लिखकर आ गया। जैसे ही टीम इंडिया ड्रेसिंग रूम की तरफ लौटने लगी, वैसे ही दर्शकों ने चिल्लाना शुरू कर दिया और दर्शक भारतीय टीम से खासा नाराज आ रहे थे। मामला काफी बढ़ रहा था और ब्रेक के दौरान इंग्लैंड के कप्तान एंड्र्यू स्ट्रॉस और कोच एंडी प्लॉवर भारतीय टीम के ड्रेसिंग रूम में गए और टीम इंडिया से अपील वापस लेने को कहा। इसके बाद धोनी ने कोच से बातचीत करने के बाद बेल को दाबारा खेलने देने का फैसला किया। इस तरह से भारत ने आलोचना झेलने के बाद भी खेल भावना का परिचय दिया था।

Download Dainik Bhaskar App to read Latest Hindi News Today


Azhar Ali expects teasing from son for comical run out vs Australia

Source: bhaskar international story

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »